शराब पीकर गाड़ी चलाने के आरोप में गिरफ्तारी के बाद हुआ खुलासा
अमेरिका की रहने वाली एक औरत को वहां की पुलिस ने शराब पीकर गाड़ी चलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। इस महिला के शरीर में अमेरिका में कानूनी रूप से स्‍वीकृत शराब से चार गुना अधिक मात्रा में शराब की मात्रा पायी गयी थी। इधर ये महिला हैरान थी उसने घंटों से शराब की एक बूंद भी नहीं चखी थी। ऐसा उसके साथ पहली बार नहीं हुआ था उसे अक्‍सर खुद के गहरे नशे में होने का अहसास होता था। पर उस समय सब चौंक गये जब उसे अदालत में पेश करने के साथ्‍ज्ञ ही उसकी मेडिकल जांच की रिर्पोट भी जज के सामने रखी गयी। जांच में लिखा थ्‍ज्ञा कि उस महिला के शरीर में शराब बनाने की फैक्‍ट्री है।

अजीब बिमारी से है ग्रस्‍त
जांच में सामने आया कि यह महिला जो कुछ भी खाती है वह उसके शरीर में जाकर शराब में बदल जाता है। दरअसल, यह एक किस्म का रोग है जिसमें जो कुछ अनाज खाया जाता है, वह पेट में जाकर पचने के साथ-साथ शराब में बदल जाता है। उसके वकीलों ने उसके पक्ष में जो दस्तावेज कोर्ट को सौंपे हैं, उसमें बताया गया है कि इस रोग में भोजन में पाया जाने वाला कार्बोहाइड्रेट उसके पेट में पहुंचकर शराब में तब्दील हो जाता है। अब इस महिला के साथ बड़ी समस्‍या है खाना खाए तो दिक्कत और नहीं खाये तो दिक्कत, क्‍योंकि जिंदा रहने के लिए तो खाना खाना ही होगा।

इसे गट फरमेंटेशन सिंड्रोम कहते हैं
इस महिला को जो बीमारी है उसे मेडिकल भाषा में ‘गट फरमेंटेशन सिंड्रोम’ या ‘ऑटो ब्रूयरी सिंड्रोम’ कहते हैं। 1971 के दशक में पहली बार जापान में वैज्ञानिकों ने इस बीमारी का पता लगाया था। इस पर शोध अब भी चल रहा है।

Advertisements