दिसम्बर महीने की ठंड अपने शबाब पर पहुंच चुकी है, ऐसे में हममें से कई रोजाना नहाने में कंजूसी बरतते है और डियो से काम चलाते हैं. कई लोग ऐसे भी होंगे जो इस ठंड से बचने के लिए 4-4 दिन नहीं नहाते होंगे, लेकिन शर्म के मारे किसी को बताते नहीं. खैर हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताते हैं जिनके बारे में जानकर आपके अन्दर का बिना नहाया गन्दा आदमी भी गर्व महसूस करेगा. क्यों? अरे भई इसलिए क्योंकि इन महाशय के  मुकाबले आप कुछ भी नहीं हैं.

z.jpg

जी हां ये हैं दुनिया के सबसे गंदे शख्स जो ईरान में रहते हैं और इन्होंने पिछले 60 सालों में एक बार भी नहाना ठीक नहीं समझा. अमु हाजी नाम के ये शख्स 80 साल के हैं और इन्हें सिगार पीने के शौक. अगर सिगार पीने के नाम पर भी आपको मुंह में पानी आने लगा है तो आपको बता दें कि इनकी सिगार में तम्बाकू के साथ जानवरों का मॉल-मूत्र होता है. क्या कहते हैं सिगार पीने का मूड कुछ बदला या नहीं. अमु हाजी ठंड से बचने के लिए हेलमेट का उपयोग करता है बाकि शरीर पर चिथड़ों से ही काम चल जाता है. दक्षिणी ईरान के देजगाह नाम के गांव के बाहरी इलाके में अमु हाजी रहता है, और इनके रहने का स्थान है एक कब्रनुमा गड्ढा. हाजी को सिर्फ नहाने से ही एलर्जी नहीं है बल्कि अपने खाने-पीने में भी सफाई पसंद नहीं है. यही नहीं महाराज अपने बालों को कटाने की जहमत उठाने से तो रहे इसलिए बड़े होने पर अपने बालों को जलाकर इन्हें छोटा कर लेते हैं. उम्मीद है ऐसे लोग जो ठंड के मौसम में नहीं नहाते वो काफी गर्व का अनुभव कर रहे होंगे.

 

Advertisements