ओडिशा के टिटलागढ़ शहर में एक ऐसा शिव मंदिर है, जहां पर गर्मियों के समय यह स्थान ठंडा हो जाता है। ऐसा तब होता है, जब पूरा देश सूर्य से आने वाली गर्मी की तपन से झुलस रहा होता है। इस मंदिर में गर्मी में सर्दी का अहसास होता है ।

टिटलागढ़ शहर बलांगिर जिले में है। यह रहस्यमयी मंदिर कुम्हड़ा पहाड़ी पर है। मई-जून के माह में जब टिटलागढ़ का तापमान 55 डिग्री रहता है, तब पहाड़ी पर मौजूद मंदिर का तापमान बहुत कम होता है। यदि मंदिर में कोई भक्त हो तो उसे एसी की कूलिंग का अहसास होगा। यहां ठंड इतनी ज्यादा होती है कि यहां मौजूद पुजारी अपने साथ गर्म कपड़े रखते हैं।

दुनिया की कुछ ऐसी ही जगहों के प्राकृतिक बदलाव

समय के साथ साथ जगहों का नजारा भी बदल जाता है, कुछ बदलाव मनुष्य करता है तो कुछ जगहों में प्राकृतिक बदलाव आ जाता है ! आज हम आपको दुनिया की कुछ ऐसी ही जगहों के प्राकृतिक बदलाव के बारे में बताएंगे जिनमे गर्मियों में नजारा कुछ और होता है तो वहीँ सर्दियाँ आते ही यहाँ का नजारा पूरा बदल जाता है और बेहद खूबसूरत भी हो जाता है ! ऐसा खूबसूरत प्राकृतिक बदलाव देखकर आपका भी दिल खुश हो जायेगा !

 

Advertisements