आपने रामायण के बारे में कई कथाओ को सुना होगा, आज भी त्रेता में घटित रामायण के साक्ष्य मौजूद है इस तरह रावण के भी होने चाहिए. रामायण से जुडी कई चीजे भारत में मौजूद है लेकिन सवाल ये उठता है की रावण से जुडी कुछ चीज श्रीलंका में मौजूद है ! क्या लंका सच में आज भी मौजूद है इस बात का पता करने के लिए भारत से श्रीलंका एक न्यूज चेनल की टीम को भेजा गया लेकिन वहां जाकर जानकारी मिली की खुद को रावण की बहन कहने सुपर्णखा आज भी जिन्दा है !
इस बात के बारे में जानकर न्यूज चैनल की टीम इस सुपर्णखा की खोज में निकल पड़ी और श्रीलंका जा पहुची यहाँ जाकर इन्होंने सुपर्णखा की तलाश करना शुरू कर दिया. पता चला की खुद को रावण की बहन कहने वाली सुपर्णखा यहाँ “गंगा सुदर्शनी” के नाम से जानी जाती थी, धीरे धीरे हम उस जगह जा पहुचे जहाँ रावण की बहन सुपर्णखा रहती थी. घर में पहुँच कर हमने देखा की यहाँ केवल आम लोग ही नही बल्कि कई बड़े बड़े लोग मौजूद थे, यहाँ बड़े बड़े राज नेता भी गंगा को रावण की बहन मानते थे खुद को रावण की बहन सुपर्णखा कहलाने वाली गंगा का कहना है की मुझे बहुत दुःख होता है जब रावण को दहन किया जाता है.

cc.jpg

रावण की बहन सुपर्णखा कहलाने वाली इस लड़की का कहना है की रावण का शव आज भी लंका की पहाड़ियों में रखा है रावण की वहन का यह भी कहना है की मैं भूत भविष्य सब देख सकती हूँ ! यहाँ के स्थानीय लोग इस लड़की को राजकुमारी मानते है इसे रावण की बहन सुपर्णखा का दर्जा दिया गया है.
रावण की बहन सुपर्णखा का दूसरा नाम गंगा है इसके कहना है की रावण की हत्या नही की गई थी उसने खुद जहर खाया था गंगा का यह भी दावा है की रावण का शव आज में सुरक्षित रखा हुआ है उसके पास तेल का दीपक जलता है कुछ ही सालो में इस दीपक को लोग इसे अपनी आखो से देख सकेगे !

इस बात में कितनी सच्चाई है इस बात का कोई प्रमाण नही है लेकिन इस बारे में कहना मुश्किल है की ये बात सच है या झूट क्योंकि खुद को रावण बहन कहने बाली सुपर्णखा के पास इस बात का कोई भी सबूत नही है यहाँ ऐसा माना जाता है की खुद को रावण के वंश का मानने बाले लोग गंगा को रावण के बहन सुपर्णखा के रूप में ही देखते है !
* रावण की मौत के बाद सूर्पनखा ने समुन्दर में कूद के आत्महत्या कर ली थी, उसने द्वापर में फिर कुब्जा के रूप में जन्म लिया था और कंस की सेवा करती थी. उसके मन में श्रीराम को पाने की भावना जगी थी इसी कारण कृष्ण ने उसे रूपवती बना उसके साथ एक पखवाड़े तक उसकी सेवा ग्रहण की थी.
ये मेडम हो सकता है की विभीषण के कुल से बची हो और इसलिए ऐसा दावा कर रही है….

Advertisements