सांप को देखते ही जहां अच्छे-अच्छों की चीख निकल जाती है वहीं हमारे देश में एक ऐसा गाँव भी है जहां हर घर में साँपों के रहने की व्यवस्था है. इस गाँव में सांप किसी भी जगह उसी तरह स्वतंत्रतापूर्वक विचरण करते हैं जैसे अन्य दूसरे जीव करते हैं. ये गाँव है महाराष्ट्र के शोलापुर जिले में स्थित शेतपाल गाँव. पुणे से लगभग 200 किमी दूर स्थित शेतपाल भारत के अन्य किसी दूसरे गाँव जैसा ही है सिवाय इसके कि यहाँ हर घर में सांप पाए जाते हैं. और सांप भी कोई ऐसे-वैसे नहीं बल्कि कोबरा प्रजाति के, जो कि बेहद जहरीले माने जाते है .

ee.jpg

इस गाँव के हर घर में सांप के रहने के लिए एक विशेष स्थान होता है जिसे देवस्थानम यानी देवताओं के रहने का स्थान बोलते हैं.इस गाँव के घरों में सांप बेख़ौफ़ इधर-उधर घूमते हैं और लोग भी उनसे डरते नहीं हैं और न ही उन्हें मारते हैं. गाँव के स्कूल और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर भी सांप स्वच्छंद विचरण करते रहते हैं. गाँव के लोग उन्हें अपना पूज्य मानते हैं और उनकी उपस्थिति में भी अपना काम सहजता से करते रहते हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि इतने सांप होने के बावजूद इस गाँव में आज तक एक भी मौत सांप के काटने से नहीं हुई है.

Advertisements