हर एक महिला के लिए मां बनना बड़े ही सौभाग्य की बात होती है। पूरे नौ महीने भ्रूण से लेकर एक मुकम्मल ज़िंदगी बनने तक अपने बच्चे को अपनी कोख में पालकर दुनिया में लाने का एहसास एक मां से बेहतर और कोई नहीं जानता। लेकिन ये नौ महीने कैसे बीत जाते है, क्या चलता है एक औरत के गर्भाशय के अंदर इन नौ महीनो में आजा एक वीडियो के माध्यम से हम आपको दिखाएंगे।

दरअसल इस पूरे प्रोसेस में एक असीम शक्ति ही है जो मां के पेट में एक नए जीवन को पैदा करती है। यही वो शक्ति है, जो गर्भ में उस बच्चे का ध्यान रखती है। इसके आगे हम इंसान बहुत बौने नज़र आते हैं। ये सब देख कर कई बार ख्याल आता है कि अगर गर्भ के अंदर कोई कैमरा लगा होता, तो हम देख पाते कि एक बच्चा कैसे पल रहा है। इस सोच को साकार किया है पीएसएनएक्स की इस वीडियो ने। इस दुनिया में जो कुछ भी है, जो कुछ भी प्रकृति से जुड़ा हुआ है, उसका एक ही मकसद है, आगे बढ़ना। प्रेगनेंसी या प्रजनन वो प्रोसेस से जिससे हर तरह का जीव आगे बढ़ता है।  इंसान के लिए प्रेगनेंसी एक प्रोसेस से कहीं ज़्यादा भावनात्मक जुड़ाव लेकर आती है। हम उस नन्हे बच्चे में अपना आने वाला कल और गुज़रा हुआ कल, दोनों ही देखते हैं।

Advertisements