हिमाचल। सोलन जिले में एक रहस्यमयी गुफा हैए जिसे अनंत गुफा के नाम से जाना जाता है। सावन के महीने में गांव के लोग यहां भगवान शिव की पूजा अर्चना करने आते हैं। सावन के महीने में गांव के लोग यहां भगवान शिव की पूजा अर्चना करने आते हैं। यह कहां तक गई है यह एक रहस्य है। इस गुफा में भगवान शिव का परिवार रहता है। इस गुफा से संबंधित कई प्रकार की दंत कथाएं प्रचलित हैं। खास बात यह है कि यह गुफा कितने बड़े क्षेत्र में फैली है इसका पता आज तक कोई नहीं लगा पाया है। इस गुफा के अंदर जाते ही अजीबोगरीब चीजें दिखने लगती हैं। अनेक प्रकार की आकृतियांए जिसमें देवी-देवताओं के अलावा शेषनाग मुख्य रूप से शामिल हैं। करीब 40 साल पहले इस गुफा का रहस्य जाने के लिए विदेशी वैज्ञानिक की टीम भी यहां आई थी। यह टीम यहां के मिट्टी के नमूने भी अपने साथ ले गए थे। विदेशियों की इस टीम ने भी गुफा एक अंदर झील होने का अंदेशा जताया था।

गुफा हुए साधु
सानन गांव की एक बजुर्ग महिला मनभरू बताती हैं कि बहुत साल पहले इस गुफा का धार्मिक महत्व जानने के लिए इस गुफा में तीन साधु दाखिल हुए थे। इन तीन साधुओं में से एक साधु बनिया देवी गांव में जाकर निकला थाए जब दो साधु गुफा में ही गुम हो गए थे।

छोटे-छोटे शिवलिंग
गुफा में कई छोटे-छोटे शिवलिंग भी हैंए इसलिए लोगों की धार्मिक आस्थाएं भी गुफा से जुड़ी हैं। गुफा का मुख्य द्वार देखकर प्रतीत होता है कि यह अंदर से काफी संकरी होगीए लेकिन जब अंदर जाते हैं तो गुफा अचानक से काफी चौड़ी हो जाती है।

Advertisements