चांद की खूबसूरती के हम सब कायल हैं. आशिकों और शायरों के लिए तो ये सुंदरता का पैमाना है. इसकी चमक और खूबसूरती कई गुना बढ़ने वाली है. 14 नवम्बर को चांद अपने पूरे शबाब पर होगा और ये भोगोलिक घटना करीब 70 साल बाद होगी.सुपरमून के बारे में तो सुना होगा आपने. लेकिन इस बार कि ये भोगोलिक घटना खुद नासा के लिए भी आश्चर्यजनक होगी. क्योंकि इस बार का सुपरमून करीब 14 प्रतिशत बड़ा और 30 प्रतिशत ज़्यादा चमकीला होगा. ये दूर से देखने में जितना खूबसूरत होगा, इसके परिणाम उससे कहीं ज़्यादा ख़तरनाक हो सकते हैं.

ss.jpg

सुपनमून की वजह से समुद्र की लहरें खतरनाक तरीके से बड़ी हो जाएंगी. अपने गुरुत्वाकर्षण बल के कारण चांद जब भी धरती के पास आता है समुद्र की लहरें काफ़ी बड़ी हो जाती हैं. इस बार का सुपरमून तो 14 प्रतिशत ज़्यादा बड़ा मतलब धरती के काफ़ी करीब होगा. इसी कारण वैज्ञानिकों ने अलर्ट जारी कर दिया है कि ऐसे वक़्त में समुद्र के किनारे न जाएं. बीते कुछ सालों में हमने कई सुपरमून देखें हैं, जिनकी खूबसूरती हम नहीं भुला सकते. साल 2014 का सुपरमून तो शायद अब तक का सबसे खूबसूरत था. इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं. इस बार का ये चांद कैसा दिखेगा इसका अंदाज़ा हम इन तस्वीरों को देख कर लगा सकते हैं. ये भोगोलिक घटना कुछ शानदार यादें लाने वाली हैं, ये तो पक्का है. अब तो बस बेसब्री से 14 नवम्बर का इंतज़ार है.

Advertisements