पाकिस्तान के  पेशावर में चूहे के काटने से एक शिशु की मौत के बाद प्रशासन ने चूहों का आतंक खत्म करने के लिए एक चूहे को मारने पर 25 रूपए का इनाम देने की घोषणा की. सरकार ने तय किया है कि इस समस्या से निजात पाने के लिए आम लोगों को शामिल किया जाए और हर चूहे को मारने पर प्रोत्साहन के तौर पर 25 रूपए दिए जाएं.

शहर का पानी एवं सफाई सेवा विभाग चार कस्बों में कुछ ऐसे केंद्र स्थापित करेगा जहां मारे गए चूहे इकट्ठा किये जाएंगे और उन्हें मारने वालों को इनाम दिया जाएगा. चूहे मारने वालों को उनकी इनाम राशि देने में मदद पहुंचाने के लिए मोबाइल सेवाएं भी शुरू की जाएंगी. घर घर चूहों को मारने वाली दवा वितरित की जाएगी. पेशावर के जिला नाजिम मुहम्मद आसिम ने बड़े चूहों के आतंक से निबटने के उपायों पर चर्चा करने के लिए एक बैठक बुलायी थी. ये बड़े चूहे न केवल स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा करते हैं बल्कि लोगों पर हमला कर और उन्हें काटकर नुकसान पहुंचाते हैं. ये बड़े चूहे 22-30 सेंटीमीटर तक के हैं.

Advertisements