सूरत के एक हीरा व्यापारी हैं। नाम है साव जी ढोलकिया। हरे कृष्णा एक्सपोर्ट्स नाम से एक कंपनी भी है। ये वही आदमी है जिसने अपने बेटे को घर से दूर कोच्ची भेज दिया था। किसी स्टोर में काम करने के लिए। तब भी ढोलकिया साहब की खूब चर्चा हुई थी।

इस बार फिर से चर्चा में हैं। और चर्चा क्या यूं कहिए कई जगह तो लोग पछता रहे होंगे कि हम भी उसी कंपनी में काम क्यों नहीं कर रहे हैं। क्योंकि ये सोचने से तो कुछ फायदा है नहीं कि हमारी कंपनी में भी मिलता यार! क्योंकि ये होना ही नहीं।

अब सुनिए हुआ क्या है…

 

हुआ ये है कि ढोलकिया साहब ने इस साल दिवाली बोनस कह लीजिए या फिर दिवाली गिफ्ट जो कि आपकी कंपनी में मिठाई होती है। इन्होंने अपने लगभग 1700 स्टाफ्स में करीब 400 घर और करीब 1200 से भी ज्यादा कार गिफ्ट किए हैं।

ढोलकिया साहब का ये कोई नया काम नहीं है। पिछले साल भी इन्होंने अपने कई एम्प्लोईज़ को कार और घर बांटे थे।  एक दो साल पहले भी इन्होंने करीबन 50 करोड़ से भी ज्यादा के गिफ्ट बांटे थे।

और सबसे बड़ी बात अभी कुछ महीने पहले ही इन्होंने अपने बेटे द्रव्य को  2-3 कपड़े और 7000 रुपए देकर कोच्ची भेज दिया था। और वहां किसी स्टोर में काम पर लगवा दिया था।

इनका कहना है कि मैंने ये सब कुछ रातों-रात नहीं बनाया है। इसके पीछे बहुत मेहनत है। कई सालों की मेहनत। और ये किसी यूनिवर्सिटी में नहीं सीखा जा सकता। वो सिर्फ एक्सपीरियंस से ही सीखा जा सकता है।

सच में ढोलकिया जी ने कमाल का काम किया है। उनकी तारीफ़ तो बनती ही है। मैं तो अपनी नई सीवी अपडेट करके उन्हीं के यहां ट्राय करूंगा। मिलेगा तो नहीं ट्राय करने में क्या जाता है!

Advertisements