जरा सोचिए जो लोग बीयर के शौकीन हैं और अचानक से उनके सामने बीयर की नदी बहने लगे तो उनकी तो मौज हो जाए? अगर आप भी इसके शौकीन हैं और ऐसा सोचते हैं तो गलत हैं। हम आपको इसी से जुड़ी एक घटना बताते हैं।

दरअसल 17 अक्टूबर 1814 को लंदन में एक ऐसा ही हादसा हुआ जब लंदन की सड़के बीयर की सुनामी में तब्दील हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो बीयर की 15 फीट ऊंची लहर सड़क पर बह रही थी। इस सुनामी में आठ लोगों की मौत हुई और दो घर पूरी तरह से तबाह हो गए।
यह सुनामी लंदन के सेंट जायल्स में बियर बनाने की एक फैक्ट्री में हुई। यहां द हॉर्स शू ब्रूअरी नाम की कंपनी की एक बियर फैक्ट्री में दुर्घटना हुई थी।
qqq.jpg
दरअसल इस कंपनी ने अपनी फैक्ट्री में 22 फीट ऊंचा लकड़ी का बियर बनाने का टैंक लगाया था और फैक्ट्री में रखे टैंक को लोहे की जंजीरों की मदद से संतुलित किया गया था। जिसमें करीब 3500 बैरल गर्म बियर थी। लेकिन 17 अक्टूबर 1814 की दोपहर लोह की एक जंजीर अचानक टूट गई जिसके लगभग एक घंटे बाद पूरा टैंक ही धाराशाई हो गया। ब्लास्ट होकर गर्म बियर इतनी ताकत से बाहर निकली की फैक्ट्री की दीवार ही टूट गई और इसकी वजह से दूसरे टैंक में भी ब्लास्ट हो गया। करीब 3,20,000 गैलन से अधिक बियर ने लंदन की सड़कों को सुनामी में तब्दिल कर दिया जहां  सड़कों पर करीब 15 फीट ऊंची बियर देखने को मिली। साथ ही बियर की सुनामी ने दो घरों को भी अपना निशाना बनाकर पूरी तरह तबाह कर दिया। सड़क पर जा रही एक लड़की समेत आठ लोगों को की भी इसमें मौत हो गई।
Advertisements