पूरी दूनिया में बढ रहे प्रदूषण की रोकथाम के लिए एक से एक नए आविष्कारों को जन्म दिया जा रहा है. इसी तरह का एक नया आविष्कार मऊ जिले के बीएसएनएल विभाग में काम करने वाले कर्मचारी मनोज कुमार ने प्रदूषण रहित कार बनाकर लोगो को चौकाने का काम किया है. जी हां जिले के रहने वाले मनोज ने मऊ का नाम इस नये आविष्कार को करके रोशन करने का काम किया है, जिसकी चर्चा जिले के लोगो में जोरो पर है और मनोज को लोग बधाई देने का काम कर रहे है.

इस बीएसएनएल के होनहार कर्मचारी द्वारा तैयार कार की कई खासियतें भी है जो बगैर पेट्रोल, डीजल और गैस  के चलती है. इस कार को बैट्री और मोटर से चलाया जा सकता है. इस कार की स्पीड तीस किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार  है. कार में सभी तरह की आधुनिक  सुविधा से लैस है और सुविधाएं अभी नहीं है कार में उसको भी लगाने का काम किया जाएगा. कार को तैयार करने के लिए मनोज ने  पुराने स्कूटर के कुछ पार्टस को काट कर प्रयोग किया है. कार में  पावर स्टेरिंग के साथ ही आगे और पीछे करने की खासियत से सुसज्जित हैं.

Advertisements