हर साल 38 दिनों का वेतन आपको नहीं मिलता है, शायद आपको इसके बारे में पता भी नहीं होगा। दरअसल, शोधकर्ताओं ने एक विस्तृत अध्ययन के बाद यह जानकारी दी है।

उन्होंने बताया कि एक औसत कर्मचारी 17 मिनट पहले काम करना शुरू करता है और 15 मिनट देरी तक काम करता रहता है। इस तरह वह साल में 305 घंटे अधिक काम करता है, जिसे दिन के हिसाब के जोड़ें, तो यह 38 दिनों के बराबर होता है।

मगर, इसका वेतन उन्हें नहीं मिलता है। इस अध्ययन में 2000 लोगों को शामिल किया गया था, जिसके बाद में शोधकर्ताओं ने यह नतीजा निकाला। अध्ययन में यह भी पता चला कि हर 10 में से छह लोगों से अधिक समय तक काम करने की उम्मीद की जाती है।

इनमें से एक तिहाई लोगों ने कहा कि ऑफिस से पहले निकलने में उन्हें गिल्टी महसूस होती है। इतना ही नहीं, ऑफिस में काम खत्म होने के बाद लोग 16 मिनट घर से ई-मेल पढ़ने और उन्हें भेजने में लगाते हैं।

यह पूरा समय मिलाकर रोजाना करीब एक घंटा 18 मिनट होता है, जो कि हर हफ्ते में छह घंटा 30 मिनट हो जाता है। जब लोगों से पूछा गया कि वे काम के घंटे खत्म होने के बाद क्यों काम करते हैं, तो 41 प्रतिशत लोगों ने स्वीकार किया कि उन्हें लगता है अपना काम ठीक से करने का यह एक ही तरीका है।

Advertisements